Sunday, April 3, 2011

क्रिकेट ! आज हम विश्व विजेता हैं !!

क्रिक्रेट ! आज हम विश्व विजेता हैं
जीतना ही था हमें, जीत गए
जीत हुई खेल की, खेल भावनाओं की
खेल प्रेमियों के जज्बातों की
हौसले की, दुआओं की, मन्नतों की
सच ! हम जीत गए !
लम्हें लम्हें में दुआएं, आराधनाएं, इबादतें
हौसले, जज्बे, इरादे, जुनून, के संग-संग
जीत की ओर, जीतने की ओर
पल-पल, संग-संग चल रही थीं
थोड़ी थोड़ी मुश्किलों को पार करते हुए
लड़ते रहे, लड़ते लड़ते हम जीत गए
सच ! हम जीत गए !
ये माना खेल तो खिलाड़ियों ने ही खेला
खिलाड़ी खेले, और जीते भी
पर उन्हें, जीतने की जो ताकत मिली
वह ताकत, महज चंद खिलाड़ियों की ताकत नहीं थी
वरन खेल प्रेमियों के दिलों से निकलीं
दुआओं से बनी, एक अद्भुत शक्ति थी
हर पल, हर क्षण, दुआएं, मन्नतें
जीत की ओर अग्रसर रहीं
खेल और खिलाड़ियों के सांथ सांथ
चलती रहीं, लड़ती रहीं, बढ़ती रहीं
सच ! जीतना ही था हमें, जीत गए
क्रिकेट ! आज हम विश्व विजेता हैं !!
...
जीतने का उत्साह, सच ! क्या कहने, हम आज जीत गए
देश, टीम, खेल प्रेमियों, दर्शकों को बधाई-शुभकामनाएं !!
...

2 comments:

Rahul Singh said...

ढेरों-ढेर बधाई.

एम सिंह said...

अच्छा लिखा है. बधाई
मेरा ब्लॉग भी देखें
अब पढ़ें, महिलाओं ने पुरुषों के बारे में क्या कहा?